भाकृअनुप-विवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, अल्मोड़ा द्वारा 17वें गाजर घास जागरूकता सप्ताह का आयोजन

भाकृअनुप-विवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, अल्मोड़ा द्वारा 16-22 अगस्त 2022 के दौरान 17वें गाजर घास जागरूकता सप्ताह का आयोजन संस्थान के निदेशक महोदय के मार्गदर्शन में किया गया। कार्यक्रम में 16 से 22 अगस्त 2022 के दौरान प्रयोगात्मक प्रक्षेत्र के विभिन्न क्षेत्रों में प्रातः 1-2 घंटा गाजर घास के उन्मूलन हेतु जागरूकता तथा निर्मूल करने सम्बंधित कार्यक्रम चलाया गया। साथ ही साथ दिनाँक 17-08-2022 को संस्थान के परिसर अल्मोड़ा में गाजर घास का उन्मूलन तथा जागरूकता कार्यक्रम चलाया गया। इसी क्रम में दिनाँक 18-08-2022 को संस्थान के हवालबाग परिसर स्थित आवासीय कालोनी में पार्थेनियम द्वारा प्रभावित विभिन्न स्थानों में गाजर घास उन्मूलन कार्य करने के साथ-साथ कालोनीवासियों को गाजर घास की संक्रामकता तथा इसके दुष्प्रभाव के विषय में जानकारी दी गयी । दिनाँक 18.08.2022 को राजकीय इंटर कालेज, हवालबाग, अल्मोड़ा में आक्रामक खरपतवार पार्थेनियम के उन्मूलन पर एक जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

इस कार्यक्रम में छात्रों तथा विद्यालय के अन्य कार्मिको को मानव और जानवरों में पार्थेनियम जनित स्वास्थ समस्याओं, उत्पादकता की हानि के साथ- साथ जैव विविधता जैसे जैसे विभिन्न पहलुओं के बारे में जागरूक की गया।दिनाँक 22.08.2022 को भाअनुप-वि.प.कृ.अनु.सं., अल्मोड़ा के प्रायोगिक फार्म, हवालबाग में पार्थेनियम जागरूकता पर गोष्ठी का आयोजन किया गया, जिसमें डा. अमित कुमार द्वारा गाजर घास के प्रबंधन तथा उपयोग तथा डा. अमित उमेश पश्चापुर द्वारा गाजर घास के जैविक नियंत्रण के विभिन्न आयामों पर व्याख्यान दिया गया। इसके साथ की साथ संस्थान के कृषि विज्ञान केन्द्र बागेश्वर द्वारा भी दिनाँक 16 से 22 अगस्त 2022 के दौरान गाजर घास जागरूकता से सम्बन्धित विभिन्न कार्यक्रम, जैसे कि अनुसुचित जाति योजना के अर्न्तगत गोद लिए गए गांव उडे़रखनी तथा निक्रा परियोजना गांव में कृषकों को जागरूरक करना, स्थानीय छात्रो में जागरूकता इत्यादि कार्यक्रम किये गए। कार्यक्रम का समन्वयन डा.अमित कुमार तथा डा. बी.एम.पाण्डे द्वारा किया गया।