भाकृअनुप-विवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसन्धान संस्थान, अल्मोड़ा का वी एल स्माल टूल किट के निर्माण और विपणन के लिए समझौता

भाकृअनुप-विवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसन्धान संस्थान, अल्मोड़ा ने मैसर्स हिमालयन हाई-टेक नर्सरी, सुभाष नगर, पी.ओ.- भोटिया पड़ाव, हल्द्वानी, जिला -नैनीताल, उत्तराखण्ड के साथ लिखित समझौता किया है। वी एल स्माल टूल किट में सम्मलित यंत्र पर्वतीय कृषि के अनुरुप कुशल तथा लागत प्रभावी बनाये गये है, जो समय तथा ऊर्जा को बचाते है साथ ही किसानों के श्रम को भी कम करते है। यह परंपरागत उपयोग किये जाने वाले कृषि यंत्रो की तुलना में अधिक कुशलता एवं सरलता से उपयोग करे जाते है। इस यंत्रो का उपयोग खुदाई, कटाई, लाइन निकालने आदि के लिए किया जाता है। कुटला, खुरपी, दरांती आदि यंत्रो के लोहे के हैंडल को एक बिंदु पर रबर की पकड़ के साथ प्रदान किया गया है, जबकि लाइन तथा गार्डन रेक के हैंडल को दो बिन्दुओ पर रबर की पकड़ दी गयी है। इन यंत्रो का सम्पुर्ण भाग लोहे से बने होने के कारण यह पारंपरिक यंत्रो के अपेक्षा अधिक चलते है। इन यंत्रो का निर्माण श्रम प्रयुक्ति विज्ञान के सिद्धन्तो के अनुरुप किया गया है, जिससे यह उपकरण महिला किसानो के लिए अत्यधिक लाभकारी है। अलग.अगल समूहों, व्यक्तियों द्वारा दस हजार इकाईयो का उपयोग वर्तमान में किया जा रहा है। वी एल स्माल टूल किट के उत्पादन और विक्रय के लिए मैसर्स हिमालयन हाई-टेक नर्सरी, सुभाष नगर, पी.ओ.- भोटिया पड़ाव, हल्द्वानी, जिला -नैनीताल, उत्तराखण्ड  के साथ विवेकानंद पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान का 23 जून 2022 को लिखित समझौता हुआ। यह समझौता 22 जून 2025 तक लागू रहेगा। समझौते में संस्थान के निदेशक डॉ. लक्ष्मी कांत,  तथा मैसर्स हिमालयन हाई-टेक नर्सरी के मुख्य कार्यकरी अधिकारी श्री आशीष जोशी ने हस्ताक्षर किये।