भाकृअनुप- विवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, अल्मोड़ा को स्वच्छता की दिशा में किये गये सराहनीय कार्य हेतु पुरस्कार

सरकार द्वारा घोषित एवं स्वच्छता पखवाड़ा पुरस्कारों हेतु संस्थानों को उनके द्वारा 16 से 31 दिसम्बर 2021 के दौरान मनाये गये स्वच्छता पखवाडे़ के अर्न्तगत की गयी गतिविधियों को कृषि अनुसंधान एवं शिक्षा विभाग/भारतीय कृषि  अनुसंधान परिषद द्वारा गतिविधियों की सीमा और पैमाने के आधार पर नामांकन आमंत्रित किये गये थे। इस क्रम में भा.कृ.अनु.प के 102 संस्थानों और 720 से अधिक कृषि विज्ञान केन्द्रों में स्वच्छता पखवाड़ा मनाया गया। भाकृअनुप- विेवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान ने भी उक्त पुरस्कार हेतु अपना नामंकन विषय वस्तु प्रभाग (एस एम डी ) के माध्यम से प्रस्तुत किया था। महानिदेशक, भाकृअनुप द्वारा सचिव (डेयर) और सचिव, भाकृअनुप की अध्यक्षता में गठित समिति द्वारा प्राप्त नामांकनों का बारीकी से निरीक्षण किया गया तथा निर्धारित सीमा व पैमाने के आधार पर विस्तृत विचार विमर्श के उपरान्त भाकृअनुप- विेवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, अल्मोड़ा को उनके द्वारा स्वच्छता के क्षेत्र में किये गये सराहनीय कार्य हेतु प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किये जाने हेतु चयन किया गया था। संस्थान को यह प्रशस्ति पत्र दिनाँक 13 अप्रैल, 2022 को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली में आयोजित कृषि विष्वविद्यायलयो के कुलपतियों एवं भाकृअनुप के संस्थानों की निदेषकों के वार्षिक सम्मेलन के दौरान श्री परशोत्तम रूपाला, माननीय केन्द्रीय कैबिनेट मंत्री, मत्स्य पालन, पशुपालन और एवं डेयरी, भारत सरकार द्वारा श्री नरेन्द्र सिंह तोमर, माननीय केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री एवं अध्यक्ष, भाकृअनुप; श्री कैलाष चौधरी, माननीय राज्य मंत्री, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय; कुमारी शोभा कारान्दलाजे, माननीय राज्य मंत्री, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय एवं श्री त्रिलोचन महापात्रा, माननीय महानिदेषक, भाकृअनुप एवं सचिव, डेयर की उपस्थिति में प्रदान किया गया। यहाँ यह उल्लेखनीय है कि संस्थान में उक्त अवधि के दौरान स्वच्छता की विभिन्न गतिविधियों संस्थान के निदेशक डा. लक्ष्मीकान्त की अध्यक्षता व निर्देशन उक्त पखवाड़े की समस्त गतिविधियों का समन्वयन डॉ. बृज मोहन पाण्डे, प्रधान वैज्ञानिक द्वारा किया गया। साथ ही यह संस्थान अल्मोड़ा नगर के सभी संस्थानों व प्रतिष्ठानों में स्वच्छता की दृष्टि  से उत्कृष्ट संस्थान है जिसका उल्लेख संस्थान में भ्रमण के दौरान गणमान्य व्यक्तियों द्वारा भी किया गया है। संस्थान की इस उपलब्घि पर डा. लक्ष्मीकान्त, निदेशक ने हर्ष  व्यक्त करते हुए सभी कर्मचारियों को उनके सहयोग हेतु बधाई दी और कहा कि यह संस्थान के लिए अत्यन्त गर्व व हर्ष का विषय है कि भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के 102 संस्थानों में से इस संस्थान को यह सम्मान प्राप्त हुआ है। संस्थान के सभी कर्मचारियों ने भी इस सम्मान के लिए निदेशक महोदय को बधाई दी।